Top Blogs
Powered By Invesp

Saturday, May 26, 2012

ये तावीज़ देंगे भाग्य को चमक

सोया भाग्य जगाने वाले चार तावीज



इनमें से कोई भी यंत्र लिखने के बाद धूप-दीप से पूजा करके तावीज में रखकर बांह अथवा गले में बांधें। भाग्य जगाने का  तांत्रिक टोटका सोलह खाने के इस  तांत्रिक यंत्र को एक पर्याप्त बडे कागज पर अष्टगंध से लिखकर इसकी धूप-दीप से पूजा करें। पूरे भक्ति भाव से इसे सीसे में मढवाकर पूजा स्थल में रखें और अन्य देवों के साथ इसकी भी नित्य पूजा करें। यह बहुत शाक्तिशाली यंत्र है परन्तु महिलाएं और नित्य पूजा न करने वाले पुरूष इसका प्रयोग न करें, इसकी प्रात: काल नित्य धूप-दीप से पूजा करने पर ही यह अपना प्रभाव दिखला पाता है।



शांति, खुशियों के लिए तावीज


किसी शुभ मुहूर्त में निम्नलिखित यंत्र की रचना करनी चाहिए। इसके लिए भोजपत्र का अनार या चमेली की कलम द्वारा लौंग व कपूर के पानी में यंत्र लिखें और धूप, दीप, नैवेद्य से पूजा करें। फिर यंत्र को मोडकर चांदी या तांबे के तावीज में रखकर, दाहिने हाथ में धारण करें। सुख, सौभाग्य, संपदा और मानसिक शांति तथा उत्साह व प्रसन्नता की वृद्धि के लिए वह तावीज बहुत श्रेष्ठ है।



सम्मान, सफलता दिलाने वाला गंडा


इस सुलेमानी नक्श अर्थात यंत्र को अनार की कलम से, अष्टगंध स्याही से भोजपत्र पर लिखकर, गुग्गल की धूनी देकर और तांबे के तावीज में बंद करके अपनी बांह अथवा कमर में बांध लें। तदुपरांत निर्द्वन्द्व होकर अपने कार्य हेतु चले जाएं। अवश्य ही सफलता मिलेगी, और भाग्य की वृद्धि होगी। किसी अफसर या बडे व्यक्ति के पास जाना हो, उससे कोई जरूरी काम लेना हो तो इस तावीज के प्रभाव से वह काम जरूर पूरा होगा। मुकदमे आदि में विजय मिलेगी। मान सम्मान बढेगा और सब मनोरथ सफल होंगे।





कोर्ट-कचहरी में जीत का तांत्रिक तावीज



रवि पुष्य या किसी शुभ मुहूत्तü में पूरब की ओर मुंह करके और स्वच्छ वस्त्र धारण करके, सफेद आसन पर विराजमान होकर अनार की कलम के द्वारा अष्टगंध स्याही से भोजपत्र पर उपर्युक्त यंत्र की रचना करें। दीप-धूप से पजून करें और चांदी के तावीज में बंद करके, तावीज दाहिनी भुजा पर अथवा गले में बांध लें। यह बहुत शुभप्रद, भाग्योन्नायक तथा लक्ष्मीप्रद तावीज है। इससे हरेक प्रकार के भय का नाश होता है। शुत्र से रक्षा होती है। कोर्ट-कचहरी में आदि तावीज को बांध कर जाएं, तो सफलता आवश्य ही मिलेगी। इसके धारण किए रहने से प्रत्येक कार्य में उन्नति होती है, भाग्य साथ देता है और धन की वृद्धि होती है।

No comments:

Post a Comment

Post a Comment